सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल, 68$ बैरल तक 2 महीने में आ सकता है क्रूड

crude-brent-oil

2 महीनों में Crude का भाव 68 डॉलर प्रति बैरल

Crude उत्पादक देशों के संगठन Organization of the Petroleum Exporting Countries (OPEC) देशों के साथ रूस जुलाई से रोज़ाना 10 लाख बैरल क्रूड प्रोडक्शन बढ़ाने पर सहमत हुआ है। सऊदी एनर्जी मिनिस्टर ख़ालिद अल-फलिह ने वियना में हुई बैठक के बाद पत्रकारों को कहा कि मुझे लगता है कि यह दूसरी छमाही में आने वाली अतिरिक्त मांग को पूरा करने में महत्वपूर्ण योगदान देगा। पेट्रोलियम एक्सपोर्ट करने वाले देशों और सहयोगी देशों के संगठनों के बीच 18 महीने के सप्लाई कटौती समझौते में संशोधन पर बातचीत केंद्रित थी। वियना में हुई बैठक में OPEC एनर्जी मिनिस्टर ने कहा कि वे अतिरिक्त मांग को पूरा करने के लिए Crude का प्रोडक्शन बढ़ा रहे हैं। Commodity Experts का कहना है कि प्रोडक्शन बढ़ने से Crude की सप्लाई बढ़ेगी, जिससे आगे चलकर कीमतों में गिरावट होगी। अगले 2 महीनों में Crude का भाव 68 डॉलर प्रति बैरल तक आ सकता है। ऐसे में पेट्रोल-डीजल की कीमतें कम हो सकती है।

किस कारण से आई थी Crude में तेजी

नवंबर 2014 के बाद पहली बार Brent Crude का दाम इंटरनेशनल मार्केट में 80 डॉलर के पार निकला था। Crude के दाम बढ़ने के पीछे ओपेक और रूस द्वारा प्रोडक्शन में कटौती, ईरान पर अमेरिका की तरफ से प्रतिबंध के बाद सप्लाई घटने का डर आदि वजह थीं। ईरान Crude का तीसरा सबसे बड़ा उत्‍पादक देश है। इसके अलावा वेनेजुएला से Crude Oil की आपूर्ति में कमी आना भी इसकी वजह थी।

68 डॉलर तक गिर सकते हैं भाव

केडिया Commodity के डायरेक्टर अजय केडिया के मुताबिक, ओपेक देशों द्वारा Crude का प्रोडक्शन बढ़ाए जाने के फैसले से आगे चलकर कीमतों में नरमी आएगी। अमेरिका में पहले से ही क्रूड का प्रोडक्शन हाई पर है। वहीं ओपेक और नॉन-ओपेक द्वारा प्रोडक्शन बढ़ाने से सप्लाई बढ़ जाएगी जिसका असर कीमतों पर पड़ेगा। अगस्त या सितंबर तक Brent Crude का भाव गिरकर 68 डॉलर प्रति बैरल तक आ सकता है। फिलहाल Brent Crude 74 डॉलर प्रति बैरल पर है। वहीं एंजेल ब्रोकिंग Commodity के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता ने कहा कि Crude का प्रोडक्शन बढ़ने का फायदा ऑयल आयातक देशों को मिलेगा। दो बड़े ऑयल आयातक देश, भारत और चीन ने बढ़ती कीमतों को लेकर कड़े तेवर दिखाए थे। अब सप्लाई बढ़ने से Crude कीमतें कम होने का फायदा इनको मिलेगा। उन्होंने कहा कि Crude की कीमतें गिरकर 70 डॉलर प्रति बैरल तक आ सकती हैं।

पेट्रोल-डीजल सस्ता होने की उम्मीद

आने वाले दिनों में Crude में अगर यह गिरावट जारी रही तो निश्चित तौर पर पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कमी आएगी। ऐसे में सरकार पर प्रेशर कम होगा। जिसकी वजह से उसके लिए Consumers को राहत देना आसान होगा। Energy Experts का कहना है कि Crude का प्रोडक्शन बढ़ने पर आने वाले दिनों में Crude की कीमतें घटकर 65 डॉलर प्रति बैरल तक आ जाएंगी।

क्रूड में गिरावट से रुपया स्टेबल होगा

शुक्रवार को रुपए में बड़ी रिकवरी दर्ज की गई। कारोबार के दौरान डॉलर के मुकाबले रुपया 16 पैसे की बढ़त के साथ 67.82 के स्तर पर पहुंच गया। अनुज गुप्ता का कहना है कि Crude प्राइस में गिरावट से रुपए को मज़बूती मिलेगी। Crude की डिमांड बढ़ती है तो उसी रेश्‍यो में डॉलर की भी डिमांड बढ़ती है। वहीं, डिमांड घटने से डॉलर पर इसका उल्टा असर होता है। डॉलर की डिमांड कम होने से ही रुपए में मज़बूती देखी जा रही है। शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 16 पैसे की मज़बूती के साथ 67.82 के स्तर पर बंद हुआ।

महँगाई से मिलेगी राहत

इस तरह Crude की कीमतें घटने से भारतीय बाजारों में भी Crude सस्ता होगा। इससे तेल कंपनियों पर दबाव भी कम होगा। तेल कंपनियां Crude की कीमतों में होने वाली कमी का फायदा Consumers को दे सकती हैं। ऐसे में पेट्रोल और डीजल सस्ता होगा। तेल सस्ता होने पर बढ़ती महँगाई से राहत मिलेगी।

शेयर बाजार में आएगी तेजी

Crude की कीमतें कम होने का असर भारतीय Share Bazaar पर देखने को मिलेगा। कीमतें घटने से बाजार में तेजी आएगी।

 


आपके मन में इस Blog Post के संबंधित कोई भी प्रश्न है तो कृपया नीचे Comment ज़रुर करें।

कृपया हमारे Blog Post के प्रति अपनी ख़ुशी दर्शाने के लिए इसे Facebook, Twitter, Google+ और Linkedin इत्यादि Social Network पर शेयर कीजिए।

ऐसे ही और Informational Posts पढ़ते रहने के लिए और नए Blog Posts के बारे में Notifications प्राप्त करने के लिए आज ही हमें Subscribe कीजिए।

शेयर बाज़ार में बिना जानकारी के निवेश जोखिम से भरा हो सकता है। इस ब्लॉग के माध्यम से दी गई सभी जानकारी Education Purpose के लिए है, किसी भी तरह का निवेश करने पहले अपने फाइनेंसियल सलाहकार से जरुर सलाह करें।

नमस्कार दोस्तों मेरा शेयर बाजार हिंदी भाषा में शेयर बाजार की जानकारी देने वाला ब्लॉग है। नए लोग इस बाजार में आना चाहते हैं उन्हें सही से मार्गदर्शन देने का प्रयास करती है। इसके अलावा फाइनेंसियल प्लानिंग, पर्सनल फाइनेंस, इन्वेस्टमेंट, पब्लिक प्रोविडेंड फण्ड (PPF), म्यूच्यूअल फंड्स, इन्शुरन्स, शेयर बाजार सम्बंधित खास न्यूज़ भी समय -समय पर देते रहते हैं। धन्यवाद्

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.