You are here
Home > Blog > हमारे वित्तीय लक्ष्य क्या हैं? What is our Financial Goals?

हमारे वित्तीय लक्ष्य क्या हैं? What is our Financial Goals?

financial-goals

हमारे Financial Goals क्या हैं?

Financial Goal किसे कहते हैं?

Financial Goal का मतलब Wealth Creation से है। जब हम किसी उद्देश्य के लिए धन इकट्ठा करना चाहते है, तो उस उद्देश्य को हम अपना Financial Goals  (वित्तीय लक्ष्य) कहते है। वित्तीय लक्ष्य से हमारा मतलब उन लक्ष्यों से जिनमे हमे पैसे की अधिक मात्रा में एक साथ आवश्यकता होती  है, जैसे:

> Retirement (सेवा निवृति) –  जब हमारे पास सैलरी या अन्य Income से पैसा आता रहता है, और हमारी जरूरते पूरी होती रहती है, और सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा होता है। लेकिन जब हम रिटायर हो जाते है, तो हमारी Basic और अन्य ज़रूरतों के लिए पैसे कहा से आयेंगे? ऐसे में अगर हम एक बड़ी रकम बचा कर रिटायरमेंट फंड के रूप में जमा करते है, और उसे एक Fixed ब्याज दर पर बैंक में जमा कर, एक Regular Income Source बना सकते है, इस तरह Retirement Funds में पर्याप्त रकम जमा करना हमारा एक वित्तीय लक्ष्य हो सकता है।इसके अलावा और भी निम्न Financial Goals हैं जिनके लिए हमें अच्छी ख़ासी रकम कि जरुरत पड़ती है जैसे:  

> बच्चों की उच्च शिक्षा और उनकी शादी के लिए
> अपना बिज़नेस शुरू करने के लिए
> अपना घर खरीदने के लिए
> गाड़ी खरीदने के लिए
> विदेश या मनपसंद जगह पर घूमने जाने के लिए
और ऐसे ही बहुत सारी जरूरतें हो सकती है, जिसे पूरा करने के लिए हमें काफी मात्रा में धन की आवश्यकता होती है। और इस तरह का Wealth Creation हमारा Financial Goals (वित्तीय लक्ष्य) बन जाता है।

Financial-Goals-AchieveFinancial Goal (वित्तीय लक्ष्य) Achieve करने के लिए क्या Planning जरुरी है?

दोस्तों हम हों या कोई भी हो, हर एक इंसान के Financial Goal (वित्तीय लक्ष्य) अलग अलग होते हैं, और हमारे Income के Source व खर्च के तरीके भी अलग-अलग होते हैं। इसलिए Goals भी अलग-अलग होते हैं। लेकिन सभी लोग अपने Goals को Achieve करने के लिए जो तरीका इस्तेमाल करते हैं, मुख्यत: ये दो में से कोई एक तरीका ही इस्तेमाल करते हैं जैसे:

पहले तरीके के अन्‍तर्गत हम लोग Loan यानी कर्ज लेकर अपनी Financial जरूरत को पूरा करते हैं, और फिर जल्‍दी से जल्‍दी उस Loan की EMI पूरी करते हुए Loan चुकाने को अपना Goal बनाते हैं। जबकि दूसरे तरीके के अन्‍तर्गत हम पहले अपना Financial Goal तय करते हैं, और उसे Achieve करने के लिए बचत व निवेश (Saving and Investment) करना शुरू करते हैं। फिर जब वह Goal पूरा होने लायक हो जाता है, तब हम उस Amount को अपना Goal Achieve करने के लिए इस्तेमाल करते हैं।

Financial Goal (वित्तीय लक्ष्य) क्यों फेल होते हैं?

उपर बताये गए Financial Goal Achieve करने के दोनों ही तरीके अपनी-अपनी जगह सही हैं लेकिन यदि उपयुक्त‍ Amount की Financial Planning ठीक से नही की गई हो, तो दोनों ही तरीकों में वह Financial Goal सफलतापूर्वक Achieve नहीं होता, बल्कि कहीं न कहीं फेल हो जाता है, और ज्यादातर Financial Goals फेल होने के दो मुख्य कारण होते हैं:

पहला ये कि Financial Goal Set करते समय हम जो Amount तय करते हैं, उसमें महँगाई (Inflation) को जानबूझकर अथवा अनजाने में अनदेखा कर देते हैं जबकि महँगाई समय बढ़ने के साथ-साथ  धीरे-धीरे हमारे पैसों की Purchasing Power को कम करती जाती है। उदाहरण के लिए मान लेते हैं कि हम 4 साल बाद कोई Car खरीदना चाहते हैं, जिसकी कीमत आज लगभग 7 लाख रूपए है, और आज हमें उस Car को खरीदने के लिए 2 लाख रूपए Down Payment के तौर पर देने पड़ते हैं, तो ये जरूरी नहीं है कि 4 साल बाद भी हमें वह कार 7 लाख में ही मिल जाएगी और 4 साल बाद भी हमें Down Payment के रूप में 2 लाख रूपए ही चुकाने होंगे, क्योंकि 4 साल बाद, उसी Car की कीमत महँगाई के कारण कम से कम 25 से 30% बढ़ चुकी होगी, जिसकी वजह से उसी कार के लिए दी जाने वाली Down Payment की Limit भी 25 से 30% बढ़ चुकी होगी। और Financial Planning ठीक से नही होने की वजह से हमारा ये Financial Goals फेल हो जाता है।

जबकि दूसरा कारण ये है कि Financial Literacy (आर्थिक ज्ञान) की कमी। हम लोग आज भी अपनी बचत को Bank या Post Office की Fixed Deposit अथवा Recurring Deposit Scheme में ही जमा करवाते हैं, जो कि वर्तमान समय में लगभग 8% सालाना से अधिक Interest नहीं देते, जबकि हमारे देश की CPI (Consumer Price Index) यानी Actual Inflation Rate (महँगाई दर) लगभग 10% सालाना है। इसलिए अपनी बचत की FD/RD करने पर आपके बचत किए गए पैसों की Value बढ़ती नहीं बल्कि समय के साथ अप्रत्‍यक्ष रूप से घटती जाती है। और इस वजह से भी आपका Financial Goal Fail हो जाता है। क्योंकि आपके पास उस समय तक उतना Amount ही इकट्ठा नहीं हो पाता, जितना उस Goal को Achieve करने के लिए जरूरी होता है। इसीलिए Financial Planning से ही हम अपने Financial Goal Achieve कर सकते हैं।

धन्यवाद


आज इतना ही, इसका अगला भाग “Financial Goals पूरा करने के लिए हमारी Financial Planning कैसी होनी चाहिए?” जल्दी ही आपके पास होगा।


आपके मन में इस Blog Post के सम्बंधित कोई भी प्रश्न है तो कृपया नीचे Comment ज़रुर करें।

कृपया हमारे Blog Post के प्रति अपनी ख़ुशी दर्शाने के लिए इसे Facebook, Twitter, Google+ और Linkedin इत्यादि Social Network पर शेयर कीजिए।

ऐसे ही और Informational Posts पढ़ते रहने के लिए और नए Blog Posts के बारे में Notifications प्राप्त करने के लिए आज ही हमें Subscribe कीजिए।

कृपया शेयर कीजिए....
  • 7
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  
  • 7
  •  
  •  
    15
    Shares
MERA SHARE BAZAAR
MERA SHARE BAZAAR
नमस्कार दोस्तों मेरा शेयर बाजार हिंदी भाषा में शेयर बाजार की जानकारी देने वाला ब्लॉग है। नए लोग इस बाजार में आना चाहते हैं उन्हें सही से मार्गदर्शन देने का प्रयास करती है। इसके अलावा फाइनेंसियल प्लानिंग, पर्सनल फाइनेंस, इन्वेस्टमेंट, पब्लिक प्रोविडेंड फण्ड (PPF), म्यूच्यूअल फंड्स, इन्शुरन्स, शेयर बाजार सम्बंधित खास न्यूज़ भी समय -समय पर देते रहते हैं। धन्यवाद्
https://www.merasharebazaar.com/

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Top