Press "Enter" to skip to content

एक ग़लती या ग़लतफ़हमी ने ध्वस्त कर दिया इस Share की ऊंचाई छूने का सपना

एक ग़लती या ग़लतफ़हमी PC Jeweler

जी हाँ हम बात कर रहे हैं PC Jeweler की।

क्या थी इसकी असली वजह

प्रमोटरों में से एक, श्री पदम चंद गुप्ता ने अपने कुछ शेयरों को ऑफ-मार्केट लेन देन के माध्यम से अपने परिवार के सदस्यों को उपहार स्वरूप दे दिया था।  हालांकि कंपनी का कहना है कंपनी के किसी भी प्रोमोटर ने बाजार में कोई भी शेयर बेचा नहीं है, और कंपनी समय-समय पर इस संबंध में आवश्यक प्रकटीकरण कर रही है।

PC Jeweler की तरफ से एक कोशिश

PC Jeweler ने शेयर बायबैक की योजना की घोषणा की है। PC Jeweler की ओर से 424 करोड़ रुपये की शेयर बायबैक की योजना से एनालिस्ट और Share Bazaar से जुड़े अन्य लोग हैरान हैं क्योंकि उनका मानना है कि कंपनी की बैलेंस शीट इस तरह के खर्च के लिए मजबूत नहीं है। PC Jeweler ने गुरुवार को 350 रुपये प्रति शेयर के प्राइस पर 424 करोड़ रुपये के शेयर बायबैक की घोषणा की थी। इसके जरिए कंपनी 3.07 पर्सेंट हिस्सेदारी या 1.21 करोड़ शेयर्स खरीदेगी। हालांकि, बायबैक की यह कीमत गुरुवार को बंद हुए कंपनी के शेयर के प्राइस से 67 पर्सेंट अधिक है।

PC Jeweler का शेयर शुक्रवार को इंट्राडे में 18.18 पर्सेंट तक चढ़ा था और बाद में 3.76 पर्सेंट गिरकर 201.15 रुपये पर बंद हुआ था। इक्विनॉमिक्स रिसर्च एंड एडवाइजरी के फाउंडर और सीईओ, जी चोक्कालिंगम ने कहा, ‘कंपनी की बैलेंस शीट इस बायबैक के लिए पर्याप्त मजबूत नहीं है क्योंकि इस पर सितंबर 2017 तक 644 करोड़ रुपये का कर्ज था।’

कंपनी द्वारा बायबैक की घोषणा

कंपनी ने बायबैक की घोषणा ऐसे समय में की है, जब इसका शेयर इस साल जनवरी में 600 रुपये के पीक से गिरकर पिछले शुक्रवार को 201 रुपये पर आ गया था। कंपनी के शेयर्स में बड़ा इनवेस्टमेंट करने वाली फिडेलिटी इंटरनेशनल के इसमें बड़ी बिकवाली करने के बाद शेयर में भारी गिरावट आई थी। 2 मई को PC Jeweler का शेयर 110 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। शेयर्स के बायबैक में प्रमोटर्स और प्रोमोटर ग्रुप हिस्सा नहीं लेंगे। कंपनी में प्रमोटर्स की 57.63 पर्सेंट हिस्सेदारी है।

LIC के पास मार्च 2018 तक कंपनी में 1.93 पर्सेंट स्टेक था। कंपनी के मार्च 2017 तक बकाया 802 करोड़ रुपये के लोन पर फाइनेंशियल ईयर 2017 के लिए 282 करोड़ रुपये का इंटरेस्ट चुकाने से भी एनालिस्ट हैरान थे। ऐसी अटकल है कि कंपनी के प्रमोटर्स के ई गवर्नेंस सर्विस प्रोवाइडर वक्रांगी के साथ छिपे हुए कारोबारी संबंध हो सकते हैं। वक्रांगी पर शेयर में गड़बड़ी की आशंका को लेकर जांच चल रही है।

इसी वजह से फिडेलिटी इंटरनेशनल के फंड्स ने हाल ही में कंपनी के शेयर्स में अपनी होल्डिंग आधी की है। PC Jeweler ने अपने बिज़नेस की शुरुआत 2005 में राजधानी के करोलबाग में एक शोरूम से की थी। कंपनी के पास अभी देश के बहुत से राज्यों में 90 से अधिक शोरूम हैं। यह मिड से लेकर हाई रेंज तक की गोल्ड और डायमंड ज्वैलरी बेचती है।


यदि आपके मन में इस Blog Post के संबंधित कोई भी प्रश्न है तो कृपया नीचे Comment ज़रुर करें।

कृपया हमारे Blog Post के प्रति अपनी ख़ुशी दर्शाने के लिए इसे Facebook, Twitter, Google+ और Linkedin इत्यादि Social Network पर शेयर कीजिए।

ऐसे ही और Informational Posts पढ़ते रहने के लिए और नए Blog Posts के बारे में Notifications प्राप्त करने के लिए आज ही हमें Subscribe कीजिए।

शेयर बाज़ार में बिना जानकारी के निवेश जोखिम से भरा हो सकता है। इस ब्लॉग के माध्यम से दी गई सभी जानकारी Education Purpose के लिए है, किसी भी तरह का निवेश करने पहले अपने फाइनेंसियल सलाहकार से जरुर सलाह करें।

More from NewsMore posts in News »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.